भोपाल, कृषि

Foto

गेहूँ के साथ चना, मसूर, सरसों भी खरीदी जायेगी - मंत्री श्री पटेल

किसान-कल्याण तथा कृषि  विकास मंत्री श्री कमल पटेल ने शुक्रवार 12 फरवरी को होशंगाबाद एवं हरदा में पुण्य सलिला माँ नर्मदा की पूजा-अर्चना कर प्रदेशवासियों की सुख-समृद्धि की प्रार्थना की। उन्होंने विवेकानंद घाट होशंगाबाद और हरदा में माँ नर्मदा की आरती और वंदना की। श्री पटेल की नर्मदा परिक्रमा का देर रात ओंकारेश्वर पहुँचकर समापन होगा।
 
कृषि मंत्री श्री पटेल ने नर्मदा परिक्रमा के दौरान किसानों से चर्चा करते हुए कहा कि इस वर्ष समर्थन मूल्य पर गेहूँ की फसल के साथ चना, मसूर एवं सरसों की फसल भी खरीदी जाएगी। इस बार लगभग 80 लाख मीट्रिक टन चना, मसूर एवं सरसों खरीदी जायेगी। इससे किसानों को 8 हजार करोड़ से लेकर 16 हजार करोड़ रुपये तक का सीधा लाभ मिलेगा।
 
कृषि मंत्री श्री पटेल ने कहा कि प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के माध्यम से अब किसानों को गाँव की आबादी की भूमि पर मालिकाना हक प्राप्त होगा। इससे किसान अपनी भूमि पर बैंको से किफायती ब्याज दर पर ऋण प्राप्त कर सकेंगे। साथ  ही व्यापार, व्यवसाय  एवं उद्योग स्थापित कर अपनी आलू, प्याज, टमाटर आदि उत्पादों का प्र-संस्करण कर न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) की जगह अधिकतम समर्थन मूल्य (एमआरपी) पर विक्रय कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी एवं मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में गाँवों के विकास के द्वार खुलेंगे। खेती किसानी की दशा और दिशा बदलेगी।

विज्ञापन